अपने अनुभवों का किसान दूसरे किसानों के साथ करें साझा..डीएम

बदायूँ। जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा के साथ गांव हजरतपुर के मझरा भवानीपुर के किसान दयाराम से मिलकर किसान के द्वारा की जा रहे स्ट्राबेरी की खेती को जाकर देखा एवं स्ट्राबेरी को खाकर उसकी गुणवत्ता को चेक किया।
दयाराम ने दोनों वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया कि अल्मोड़ा से पांच पौधे लेकर आए थे अब दो बीघा का पूरा खेत तैयार हो गया है एक बीघा खेत में लगभग तीन सौ पौधे लगते हैं। पौधे से पौधे की दूरी एक फिट रहती है जिसमें पंद्रह दिन बाद सिंचाई की जाती है। स्ट्रावेरी से उनकी तकदीर बदलने लगी है। एक एकड़ यानि पांच बीघा खेत में तीस हजार रुपये की लागत आती है प्रति पौधा तीन सौ रुपये की उपज देता है। पैकिंग करके दस रुपये में पांच स्ट्राबेरी बिकती है। अधिक मुनाफे के लिए दिल्ली की मंडी में भी ले जाएंगे।
खेती को देखकर डीएम ने कहा कि इसी प्रकार अन्य किसान भी नई नई तरह की खेती करें जनपद के किसान अपने अनुभवों को दूसरे किसानों के साथ साझा करें। उन्होंने जिला उद्योग अधिकारी को निर्देश दिए कि इस प्रकार की खेती करने के लिए अन्य किसानों को भी प्रेरित किया जाये इसमें उनके लिए अच्छा लाभ है। यहां होने वाली स्ट्राबेरी को यहां के साथ ही अन्य जनपदों की मण्डियों में बिक्री हेतु भेजा जाये जिससे जनपद यहां की स्ट्राबेरी की मांग बढ़ सके। ऐसे किसानों को सम्मानित भी किया जाये।

Leave a Reply

%d bloggers like this: