गंगा एक्सप्रेस वे के कार्य में लाई जाए तेजी: डीएम


बदायूँ: 27 अगस्त। डीएम ने निर्देश दिए कि जिन गांवों में गंगा एक्सप्रेस वे के अन्तर्गत भूमि अधिग्रहण का कार्य शेष है, वहां तहसीलदार, कानूनगो एवं लेखपाल जाकर इन कमियों को दूर कर भूमि अधिग्रहण का कार्य पूर्ण करें। उपजिलाधिकारी एवं तहसीलदार न्यायालयों में विचाराधीन वादों पर नियमित तिथियां लगाकर सुनवाई करें। सभी कार्य त्रुटिरहित होना चाहिए। भूमि क्रय के साथ ही किसानों को भुगतान भी होता रहे।
शुक्रवार को कलेक्ट्रेट स्थित डीएम कार्यालय में गंगा एक्सप्रेस वे की भूमि अधिग्रहण के सम्बंध में जिलाधिकारी दीपा रंजन ने तहसील दातागंज, बिल्सी, बदायूँ एवं बिसौली के उपजिलाधिकारियों एवं तहसीलदारों के साथ बैठक आयोजित की। भूमि अधिग्रहण सबसे ज्यादा शेष कार्य दातागंज में लम्वित होने पर डीएम ने कारण पूछा तो तहसीलदार ने अवगत कराया है कि ग्राम तिगलापुर के कृष्णपाल, ग्राम हाशिमपुर के धनसिंह, ग्राम धुधारी के मोरध्वज, ग्राम बिहारीपुर अजब के धर्मेंद्र प्रताप सिंह, राम प्रसाद, जागन, सरनाम, सूरज, सियाराम, ग्राम डहरपुर कलां के अजय पाल, जयपाल, ग्राम नगरिया खनूं के टाकन सिंह, भूदेवी तथा ग्राम पापड़ हमजापुर के जगदीश शरण आदि लोग लापता हैं। डीएम ने अपील की हैं कि लापता लोग अपनी अपनी भूमि का बैनामा जल्द से जल्द कराएं, अन्यथा लापता लोगों की भूमि को गंगा एक्सप्रेस वे निर्माण के लिए अधिग्रहण कर लिया जाएगा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: