व्यापारी की मौत के मामले में पुलिस ने वांछित अपराधी को गिरफ्तार कर भेजा जेल

बदायूँ:-उसावां व्यापारी रामानंद गुप्ता की मौत के मामले में सोमवार को थाना पुलिस ने वांछित अपराधी बब्लू पुत्र धर्मपाल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है लेकिन मुख्य नामजद आरोपी कुलदीप पुत्र दाताराम अभी तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं परिजनों को पुलिस की भूमिका संदिग्ध लग रही है क्योंकि पांच दिन बीत जाने के बाद भी मुख्य आरोपी अभी तक पकड़ा नही गया और वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के आश्वासन पर थाना प्रभारी के खिलाफ कार्यवाही करने की बात कही गयी थी लेकिन थाना प्रभारी के विरुद्ध कोई भी कार्यवाही नही गयी है जिससे परिजनों को थाना पुलिस से न्याय की उम्मीद नही है। जिससे परिजनों व नगरवासियों को रोष व्याप्त है।
बता दे कि बीते बुधवार को आक्रोशित परिजनों व व्यापारियों के हंगामे के बाद थाना पुलिस की फजीहत होने पर आनन-फानन में तीन आरोपितों को खिलाफ मुकदमा दर्ज कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। गुरुवार को आयी पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार व्यापारी रामानंद की मौत अत्याधिक रक्त स्त्राव होने की वजह से कहीं अंगों ने काम करना बंद कर दिया जिससे व्यापारी की मौत हो गयी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया फिर क्या था कि आरोपितों के तलाशने में पुलिस ने नगर के कई जगहों पर दबिश दे डाली जहां से कई लोगों को गिरफ्तार किया और पूछताछ करने के बाद छोड़ दिया गया। लेकिन पुलिस मुख्य आरोपी के गले मान तक नहीं पहुंच पाई और खाक छानती रही। जिससे जनता में आक्रोश पनपने लगा है।
कस्बे के वार्ड नंबर पांच निवासी व्यापारी रामानंद गुप्ता पुत्र मुनेंद्र गुप्ता की बुधवार को इलाज़ के दौरान मौत हो गई थी इलाज के दौरान हालत बिगड़ने पर दिल्ली ले जाया जा रहा था कि रास्ते मे व्यापारी रामानंद गुप्ता ने दम तोड़ दिया। मौत के बाद परिजन शव को घर ले आये। इससे पूर्व परिजनों ने कस्बे के ही कुछ लोगों ने पर तीन नवंबर को घर मे घुसकर मारपीट गली गलौच और रामानंद को घायल करने का आरोप लगाया और कहा कि तहरीर लेकर थाने भी गए लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं जिससे आक्रोशित व्यापारियों व परिजनों ने एसओ पर आरोपितों को बचाने का आरोप लगाते हुए थाने का घेराव किया। इसके साथ ही एसओ को थाने से हटाने की मांग को लेकर व्यापारियों ने बाजार बंद कर दिया। मृतक के घर से लेकर थाने तक व्यापारियों का जमावड़ा लगा रहा। तनावपूर्ण स्थिति की जानकारी पर एसपी सिटी प्रवीण सिंह और सीओ प्रेमकुमार थापा कस्बा पहुंचे। यहां उन्होंने व्यापारियों और स्वजन को समझा बुझाकर जांच के बाद कार्रवाई का अश्वासन दिया और लोगों का पुलिस के प्रति गुस्सा देखते हुए पुलिस प्रशासन के हाथ पैर फूल गए जिस पर पुलिस ने परिजनों की तहरीर पर दाताराम कुलदीप बबलू के खिलाफ गैर इरादतन हत्या धमकी मारपीट और गाली गलौज करने के मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया और मौके से दाताराम को उसके घर से ही गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने गुरुवार को आरोपित दाताराम जेल भेज दिया इसके बाद शाम को आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने इस मामले को और भी पेचीदा कर दिया ।रिपोर्ट में रिपोर्ट के अनुसार मौत की वजह अत्याधिक रक्त स्त्राव होना जिससे शरीर के महत्वपूर्ण अंगो का काम करना बंद हो जाना पाया गया है। थानाध्यक्ष प्रकाश सिंह ने बताया कि दाताराम के अलावा एक अन्य आरोपित बब्लू पुत्र धर्मपाल को जेल भेज दिया गया है मुख्य आरोपी कुलदीप की तलाश की जा रही है। टीम लगी है जनपद के कई ठिकानों पर दबिश दी जा रही है जल्द से जल्द गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जायेगा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: