इलाज के दौरान प्रसूता की मौत, लापरवाही का लगाया आरोप

बदायूँ। बिसौली के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र इलाजमें प्रसव के दौरान अत्यधिक रक्तस्राव के चलते एक महिला की हालत बिगड़ गई। हालत ज्यादा बिगड़ने पर एएनएम ने महिला को बदायूँ रेफर कर दिया। लेकिन रास्ते में ही महिला की मौत हो गई। मामले के चार दिन बाद मृतका के पति ने कोतवाली पुलिस को तहरीर देकर अस्पताल स्टाफ पर लापरवाही का आरोप लगाया है।
जानकारी के मुताबिक 26 फरवरी की रात ग्राम यादपुर निवासी एवरन अपनी पत्नी का प्रसव कराने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर आया था गांव की आशा भी उसके साथ थी। प्रसव के दौरान महिला की हालत बिगड़ गई। एवरन का आरोप है कि प्रसव के दौरान अस्पताल में मौजूद नर्स ने इलाज में बड़ी लापरवाही वर्ती इस दौरान बच्ची का जन्म तो हो गया लेकिन महिला का रक्तस्राव नहीं रुका। आरोप है कि हालत बिगड़ती देख नर्स ने उसे बदायूँ रेफर कर दिया। आरोप है सरकारी एंबुलेंस ना बुलाकर एक प्राइवेट एंबुलेंस में उसे रेफर किया गया। रास्ते में ही महिला की मौत हो गई। परिजन महिला को घर ले गए और उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया। मामले के 4 दिन बाद एवरन ने कोतवाली पुलिस को तहरीर देकर अस्पताल स्टाफ पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया है। इधर केंद्र प्रभारी सुशांत बनर्जी का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। जो भी दोषी पाया जायेगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

%d bloggers like this: