कप्तान साहब एक नजर इधर भी थाने में आए नवनियुक्त मुंशी जनता के साथ करते हैं अभद्रता

मुंशी जबर सिंह को रोकने की मांग कर रही जनता जिनका व्यवहार जनता के बीच में रहा संतोषजनक

सहसवान नहीं मानते नवनियुक्त पोस्टिंग पर आए मुंशी जनता एवं पत्रकारों से करते हैं अभद्रता बताते चलें बीते समय तेजतर्रार वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने कई
मुंशी को इधर से उधर किया था जिसमें से तीन मुंशी सहसवान से हटाए गए थे लेकिन सहसवान में नया आया मुंशी योगेंद्र सिंह बह फरियादियों के साथ अभद्रता करना अपने शरीर का हवाला देते फरियादियों से कह देना कि एक लात मारूंगा सीधे हवालात में पहुंच जाएगा जब इस बाबत कुछ एक पत्रकारों ने मुंशी योगेंद्र से बात की तो वह पत्रकारों पर भी अपना रौब जमाने लगा कहने लगा कि पत्रकारों को अंदर आने की इजाजत नहीं है अगर अंदर आए तो खामियाजा भुगतने को रहो तैयार इस बाबत पुलिस क्षेत्राधिकारी प्रेम सिंह थापा से वार्ता की गई तो उन्होंने कहा थोड़ा गर्म मिजाज का लगता है उसे समझाया जाएगा कि फरियादियों एवं जनता के बीच समानता से वार्ता की जाए इसी बीच प्रभारी निरीक्षक पंकज लमानिया से जानकारी ली गई की आपके द्वारा मुंशी योगेंद्र से कहा गया है कि पत्रकारों को अंदर नहीं आने दिया जाए प्रभारी निरीक्षक ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि मैंने किसी से नहीं कहा है कुछ मैं पत्रकारों का सम्मान करता हूं एवं आम जनता की हर बात ध्यान से सुन कर कृत कार्रवाई कराता हूं लेकिन मजेदार बात यह है सूत्रों से पता लगा है कि थाना बिसौली से आया हुआ मुंशी कुछ राजनेताओं की शरण में पैर पसार कर आया हुआ है वहां पर भी इसकी दबंग पनाह जनता एवं फरियादियों के बीच हावी था वह अपने आप को मौजूदा सत्ता का हवाला देते हुए उन्हें भी डांट फटकार देता है जो अपनी तानाशाही पर उतारू है जबकि योगी सरकार का कहना है कोतवाली परिसर हो या थाना परिसर चौकी आदि पर कोई भी फरियादी या जनता का व्यक्ति आए उसे पूरा सम्मान दिया जाए लेकिन यहां पर तैनात मुंशी योगी जी के सारे आदेशों को ताक में रखकर अपनी मनमर्जी पर उतारू है इसी से प्रतीत होता है कि जबसे यह मुंशी सहसवान में आया है तब से लेकर आज तक हर व्यक्ति को एक डंडे से सत्ता के नशे में चूर कहने वाला मुंशी हंकता हुआ आया है!

Leave a Reply

%d bloggers like this: