पत्नी व बेटी ने मिलकर योजनावद्ध तरीके से कराई थी पति की हत्या। पुलिस ने किया खुलासा

पुलिस ने नौ दिन में किया हत्या का खुलासा!

*जरीफनगर से शिव यादव की रिपोर्ट*

थाना जरीफनगर क्षेत्र के गांव दादरा में चार सितम्बर की रात्रि को रोहताश को गोली मार कर मौत के घाट उतार  था ।

रोहताश मर्डर में आया एक नया मोड़

मृतक की पत्नी ने अपने ही नजदीकी रिश्तेदारों पर हत्या करने का आरोप लगाते हुए नाम दर्ज तहरीर थाने में दी थी।

तहरीर के आधार पर जरीफनगर पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी थी ।

जरीफनगर पुलिस ने दिन रात एक कर के 9 दिन के भीतर दूध का दूध पानी का पानी कर सच सामने उजागर किया। और मर्डर का खुलासा कर के दिखाया  ।

मृतक रोहतास की पत्नी को शक था कि रोहताश के संबंध अपने सगे भांजे बृजेश की पत्नी से हैं इसलिए रोहताश की पत्नी ने रोहताश को रास्ते से हटाने के लिए हत्या कराने की योजना बनाई थी। क्योंकि पत्नी को अपने पति रोहतास पर शक था की कहीं अपने भांजे बृजेश की पत्नी को घर में ना ले आए । इस लिए रोहतास की पत्नी ने  बालिस्टर नामक युवक से मिलकर योजनाबद्ध तरीके से अपने ही पति रोहतास की हत्या कराई थी।  जिसमें सोमवार को घटना में सम्मिलित आयुक्त बालिस्टर यादव पुत्र सौदान सिंह यादव निवासी ग्राम मेदावली थाना गन्नौर जनपद संभल प्रेम यादव पुत्र बालिस्टर यादव व दोस्त मोनू कश्यप पुत्र इंद्र सिंह कश्यप निवासी रामगढ़ नई बस्ती खड़खड़ी निकट संतोषी माता मंदिर थाना कोतवाली हरिद्वार उत्तराखंड को सोमवार को थाना जरीफनगर पुलिस ने बदायूं संभल बॉर्डर के पास राकेश के ढाबे से आगे खेतों में  समय लगभग 12:35 बजे  गिरफ्तार कर लिया। जिनके कब्जे से तीन आदद तमंचे नाजायज 315 बोर व 6 कारतूस नाजायज 315 बोर व घटना में प्रयुक्त एक मोटरसाइकिल डिस्कवर जिसका रजिस्ट्रेशन नंबर डीएल 7 SAS 4286 व एक मोबाइल फोन ओप्पो कंपनी का बरामद हुआ  । उपरोक्त गिरफ्तार बालिस्टर यादव से  मृतक की पत्नी वरफा देवी द्वारा 3 लाख में पति की हत्या का सौदा किया गया था पैसे नगद नहीं होने के कारण दिनांक 31 अगस्त 2021 को वरफ़ा देवी ने अपनी पुत्री के साथ तहसील सहसवान जाकर 3 बीघा जमीन का इकरारनामा अभियुक्त बालिस्टर यादव के नाम कर दिया । और बालिस्टर ने घटना को अपने बेटे प्रेम यादव व उसके दोस्त मोनू कश्यप को सम्मिलित करते हुए दिनांक चार सितंबर 2021 की रात्रि को रोहताश के घर में घुसकर रोहताश की सोते समय उसके सिर व पीठ में गोली मारकर रोहताश की हत्या कर दी । घटना को अंजाम देते समय मोबाइल से रोहताश की बेटी राजकुमारी रोहताश के बारे में सारी गतिविधियों की सूचना हत्यारों को देती रही । यहां तक की हत्या के बाद भी इस बात की सूचना कि रोहताश की मृत्यु हो गई है । मृतक की पुत्री राजकुमारी द्वारा अभियुक्त गणों को हर गतिविधि जानकारी दी गई थी।

जब पुलिस ने मृतक की पत्नी का मोबाइल नंबर सर्विस  लाइंस पर लगाया तो राज निकल कर सामने आया तो मृतक की पत्नी के होश उड़ गए। तब पुलिस ने कड़ी सकती से पूछताछ की तो सच खुल कर सामने आया। मृतक की पत्नी ने सब सच उगल दिया।

आरोपी बालिस्टर यादव पूर्व से ही बहुत बड़ा अपराधी है जिसके विरुद्ध कई अपराधिक मामले कई अन्य थानों में भी पंजीकृत हैं मृतक रोहताश की पत्नी बरफा देवी के द्वारा खुद को व बेटी व हत्यारों को बचाने के लिए बृजेश व उसके ससुर वीरपाल व दो अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ  नाम दर्ज तहरीर दी थी ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: