अली अल्वी जिला ने गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की।

गांधी जयंती के अवसर पर अली अल्वी जिला सचिव समाजवादी बदायूं ने
गांधी ग्राउंड स्थति गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की और कहा मैँ स्वंय व्यक्तिगत रुप से महात्मा गाँधी के अंहिसा नीति से प्रभावित हूँ और उनके इसी अंहिसावादी मार्ग से प्रभावित होकर लाखो भारतीयो ने उनके साथ मिलकर अंग्रजो को भारत छोड़ने पर विवश कर दिया। यह कहने की कोई जरुरत नही है कि वह भारत के स्वतंत्रा संर्घष के सबसे उत्कृष्ट नायको में से एक थे। जिसके लिये उन्होंने“सविनय अवज्ञा आंदोलन” जैसे अंहिसावादी मार्गो और आंदोलनो का चुनाव किया जोकि पूरे विश्व के लिये प्रेरणा का स्त्रोत बना।महात्मा गाँधी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर में हुआ था. गाँधी जी के सिधांतों से पूरा विश्व परिचित हैं और आदर के भाव से उन्हें याद करता हैं इसलिए इस गाँधी जयंती को “अहिंसा दिवस” के रूप में मनाया जाता हैं. गाँधी जी ने सत्य, अहिंसा के बल पर देश को आजादी दिलाई. आज के समय में यह सोचकर ही सवालों की झड़ी सी लग जाती हैं कि कैसे संभव हुआ होगा सत्य,अहिंसा के बल पर अंग्रेजो को बाहर करना ? पर यह संभव किया गया था मोहनदास करम चंद गाँधी के द्वारा, जिसके लिए उन्होंने कई सत्याग्रह, कई आन्दोलन किये जिसमें देशवासियों ने इनका साथ दिया. इनके कहने मात्र से देशवासी एक जुट हो जाते थे, जेल जाने को तत्पर रहते थे.
इस अवसर पर अखलाक अंसारी, शब्बू खान, यूनुस अल्वी, अनिल पंडित, गुड्डू अल्वी, ओवैस कादरी, मुशाहिद मंसूरी, नदीम अंसारी, राजा, मोहसिन खान, शादाब सुल्तानी विनोद कुमार आदि लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: