बाल गंगाधर तिलक और चंद्रशेखर आज़ाद जी की जयंती कार्यक्रम का आयोजन

युवा मंच संगठन क़े राष्ट्रीय अध्यक्ष ध्रुव देव गुप्ता के निर्देश पर राजा करन सिंह पूर्व माध्यमिक विद्यालय खेड़ा जलालपुर पुख्ता जिला बदायूं मे दातागंज विधानसभा उपाध्यक्ष यतेंद्र प्रताप सिंह जी के नेतृत्व में लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक और चंद्रशेखर आज़ाद जी की जयंती कार्यक्रम का आयोजन किया गया !

इस अवसर पर उपस्थित प्रधानाध्यापक राजा करन सिंह पूर्व माध्यमिक विद्यालय रूप किशोर सिंह जी ने बताया _
देश की स्वतंत्रता के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करने वाले, अमर बलिदानी चंद्रशेखर आजाद जी की जयंती पर कोटि-कोटि नमन। आपने अपने अदम्य साहस, वीरता और राष्ट्र भक्ति से अंग्रेज़ी हुकूमत की नींव हिला दी। बता दें कि चंद्रशेखर आज़ाद का जन्म 23 जुलाई, 1906 को मध्य प्रदेश के भावरा में हुआ था,

आज़ादी के आंदोलन में अहम भूमिका निभाने वाले दो स्वतंत्रता सेनानियों की आज जयंती है. लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक और चंद्रशेखर आज़ाद को उनकी जन्म जयंती पर देश सलाम कर रहा है.

इसी अवसर पर उपस्थित,
संजीव कुमार सक्सेना जी ने बताया : लोकमान्य तिलक जी ने स्वभाषा व स्वसंस्कृति के अपने विचारों व सिद्धांतो से भारतीय समाज में एक नई चेतना जागृत करने का काम किया। उनके विचार आज भी उतने ही प्रासंगिक हैं जितने उस समय थे। देवर्षि सिंह जी राजा करन सिंह पूर्व माध्यमिक विद्यालय सहायक अध्यापक जी बताया :
स्वराज मेरा जन्म सिद्ध अधिकार है’ का मंत्र देने वाले महान स्वतंत्रता सेनानी, समाज सुधारक लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक जी की जयंती पर उन्हें कोटि-कोटि नमन।
ऐसे अप्रतिम राष्ट्र नायक की जयंती पर उनके चरणों में कोटि-कोटि वंदन।

इसी अवसर पर उपस्थित अलंकार तोमर जी ने बताया
“स्वराज हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है और मैं इसे लेकर रहूँगा।”

भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के अग्रदूत लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक जी की जयंती पर चित्र पर पुष्प अर्ज़ीत करते हुये बताया की मॉं भारती को गुलामी की बेड़ियों से मुक्त कराने के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले, देश के लाल, वीरता और निर्भीकता के अमर प्रतीक, महान क्रांतिकारी चन्द्रशेखर आजाद जी की जयंती पर उन्हें कोटि- कोटि नमन करते सभी ने दोराहा की मातृभूमि के लिए उनका संघर्ष देश के युवाओं को युगों युगों तक प्रेरणा देगा।

इसी अवसर पर उपस्थित संगठन के विधानसभा दातागंज उपाध्यक्ष ठाकुर यतेंद्र प्रताप सिंह ने कहा की भारत माता के सच्चे सपूत और अमर क्रांतिकारी चंद्रशेखर आज़ाद की जयंती पर मैं उन्हें श्रद्धापूर्वक स्मरण करता हूँ। स्वतंत्रता संग्राम के दौरान जिस साहस और बलिदान का उन्होंने परिचय दिया, वह आने वाली पीढ़ियाँ भी याद रखेंगी। आज़ाद भारत के लिए बलिदान देने वाले चंद्रशेखर आज़ाद को नमन है।
अपने प्रखर विचारों, स्वराज्य प्राप्ति की दृढ़ता और समाज के प्रति सकारात्मक सक्रियता के कारण ही वे “लोकमान्य” कहलाए, आज देश रत्न लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक जी की जयंती पर उन्हें नमन करते हुये बताता की तिलक जी अपने प्रखर विचारों, स्वराज्य प्राप्ति की दृढ़ता और समाज के प्रति सकारात्मक सक्रियता के कारण ही वे “लोकमान्य” कहलाए, आज देश रत्न लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक जी की जयंती पर उन्हें बारम्बार नमन।

इस अवसर पर रूप किशोर सिंह, सुरेश पाल सिंह, संजीव सक्सेना, देवर्षि सिंह, रणवीर सिंह, शैलेंद्र कुमार सिंह, अंशुमान प्रताप सिंह, रूद्र प्रताप सिंह, गोविंद शर्मा, वाजिद अली, अभिषेक सक्सेना, रविंद्र सक्सेना , अवनीश सक्सेना आदि लोग उपस्थित रहे l

Leave a Reply

%d bloggers like this: