उप जिलाधिकारी के आदेशों को हवा में उड़ते दिखे कानून गो लेखपाल थाना जरीफनगर पुलिस

स्टे लेने के बावजूद भू माफियाओं द्वारा निर्माण जारी योगी राज में भी भू माफिया कर रहे अवैध कब्जा।

तहसील सहसवान थाना जरीफनगर क्षेत्र के ग्राम मालपुर मुस्तहकम में तहसील सहसवान, जिला बदायूं के गाटा संख्या 260/261/262/370 पर भू माफियाओं द्वारा अवैध कब्जे का वृद्ध ने लगाया आरोप। वृद्ध हरप्रसाद पुत्र इंदर ग्राम मालपुर ततेरा ने उप जिलाधिकारी सहसवान ज्योति शर्मा को 02-06-20-21 दिए प्रार्थना पत्र में कहा है कि मेरी जमीन मालपुर में स्थित है। जिसका बैनामा अलीजान पुत्र मौला बक्स से दिनांक 24-2-20-11 को कराया था।जिसका अमल दरामद सरकारी अभिलेखों में हो चुका है। जिसका प्रार्थी मालिक व स्वामी है। गांव के पहलवान गंगा प्रसाद नंदू उर्फ नंदकिशोर राजवीर जो बहुत ही हैकड़ भू माफिया लोग हैं। जिन्होंने राजनीतिक पहुंच के चलते प्रार्थी की जगह पर अवैध निर्माण करने का प्रयास किया था। जिसके संबंध में प्रार्थी ने सिविल जज जूनियर डिविजन सहसवान में स्थगन आदेश प्राप्त करने के बाद हरप्रसाद बनाम पहलवान दायर किया जिसका स्थगन आदेश 21/8 /2014 को प्राप्त कर लिया। उसके बावजूद दबंग भूमाफिया भूमि पर कब्जा करने पर लगे हुए हैं। जिसकी शिकायत थाना जरीफनगर पुलिस से भी की जा चुकी है। कई बार प्रार्थना पत्र थाना दिवस , संपूर्ण समाधान दिवस सहित सभी आला अधिकारियों से प्रार्थी दे चुका है। मजबूर होकर प्रार्थी ने अपनी व्यथा उप जिलाधिकारी ज्योति शर्मा को सुनाई। जिन्होंने कार्यवाही का आश्वासन देते हुए हल्का लेखपाल ,कानूनगो को पुलिस बल के साथ भेजने के निर्देश दिए थे ।जो हवा हवाई साबित हुए । भू माफियाओं के हौसले इतने बुलंद हैं की जमीन का स्टे होने के बावजूद भी कोर्ट की अवहेलना कर निर्माण दबंगों द्वारा करा लिया गया। जिसको लेकर वृद्ध दर दर न्याय के लिए भटक रहा है। उसके बावजूद भी दबंगों के आगे वृद्ध नतमस्तक दिखाई दिया जिसको लेकर वृद्ध युवक अपने परिवार के साथ गांव छोड़कर पलायन करने के लिए मजबूर हो गया है। अब देखना यह भी है क्या इस वृद्ध युवक के लिए योगी सरकार में न्याय मिलेगा या पूरे मामले को अधिकारियों द्वारा ठंडे बस्ते में डाल दिया जाएगा। यह तो आने वाला समय ही बताएगा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: