शौच को गई नाबालिग को गंदी नियत से दबोचा खेत में बेहोश मिली नाबालिग लड़की

*ननिहाल के लोगो ने गांव के दो लोगो के खिलाफ पुलिस को नामजद दी तहरीर*

*अफजल अज़ीज़ खान*

बदायूँ। जरीफनगर के अंतर्गत एक गांव में अपने ननिहाल में आई हुई चौदह साल की नाबालिग लडकी को गांव के ही दो लोगो गंदी नियत से दबोच कर बाजरे के खेत में ले गये। काफी तलाश करने के बाद परिजनों को नाबालिग लडकी खेत में बेहोशी की हालत में पडी हुई मिली है।
जानकारी के मुताबिक जरीफनगर थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम कमलपुर जल्लूनगर निवासी शिव दयाल के घर उनकी चौदह बर्षीय नाबालिग रहने के लियें अपनी नानी के घर आई हुई है जो सुबह लगभग सात बजे के करीब गांव के ही जंगल में शौच के लियें गई थी लेकिन काफी देर बाद तक जब वह बापस नही लौटी तो ननिहाल के लोगो को चिंता होने लगी और वह उसे तलाशने जगंल पहुंचे। काफी तलाश करने के बाद नाबालिग लडकी बाजरे के खेत में बेहोशी की हालत में पडी हुई मिली जिसे इस अवस्था में पडा देख सब के होश उड गये और उसे उठाकर घर ले आये। बाद में ननिहाल के लोगो ने पुलिस में गांव के ही दो लोगो के खिलाफ नाबालिग लडकी को जबरन गंदी नियत से दबोच कर खेत में लेजाने की नामजद तहरीर दी है।
आरोप है की नाबालिग लडकी जब शौच करने के लियें जगंल जा रही थी तो वहा रास्ते में ही गांव के निवासी कमलेश यादव पुत्र सत्यपाल यादव व बलदाऊ यादव पुत्र मानवर यादव दोनों युवक पहले से ही बाजरा की फसल में घात लगाये हुये बैठे थे। उन्होंने नाबालिग लडकी को अकेला आता देख उसे गंदी नियत से दबोच लिया और जबरन उसे खीचते हुये बाजरे के खेत में ले गये।
कहा गया है की जब काफी देर तक वह नाबालिग लडकी शौच करके जंगल से बापस नहीं लौटी तो ननिहाल के लोगो को चिंता होने लगी और वह उसे तलाशते हुये जंगल पहुंचे जंगल मे काफी देर तलाशने के बाद ननिहाल के लोगो को नाबालिग लडकी बाजरे के खेत में बेहोशी की हालत में पडी हुई मिली जिसे देखकर ननिहाल के लोग हक्का बक्का रह गये और उसे वहां से उठाकर घर ले आये। और उसको एक निजी चिकित्सालय में लेजाकर दिखाया।
ननिहाल के लोगो ने थाना जरीफनगर जाकर आरोपियों के के खिलाफ नामजद तहरीर दी है। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंच कर मामले की छानबीन कर रही है। सुना जाता है की आरोपी दबंग लोग हैं जो पीडित परिजनों पर फैसले का दबाव बना रहे हैं।बताया जा रहा है कि आरोपी दोनों दबंग परिवार से हैं किशोरी के ननिहाल वाले एक गरीब परिवार से हैं। इसलिए दबंग लोग किशोरी के परिजनों पर  फैसला करने का दबाव बना रहे हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: