लकड़ी माफियाओ ने काट डाला आम व नीम का हरा भरा बाग

इस्लामनगर । थाना क्षेत्र के ग्राम चन्दोई के जंगल में लकड़ी माफियाओं ने रात में आम व नीम सहित 24 पेड़ों पर धावा बोल दिया जिसमें माफिया एक आम के पेड़ को रात में ही ट्रैक्टर ट्राली से भरकर ले गए जबकि 3 मौके पर ही कटे छोड़ गए जबकि शेष बचे आम नीम के पेड़ों को जड़ से चुटेल कर दिया अब सवाल इस बात का उठता है की लकड़ी माफियाओं ने किसके इशारे पर फलदार पेड़ों पर धावा बोला था। बता चलें कि थाना क्षेत्र के ग्राम चंदोई निवासी नन्हे शेखजी का कई बीघा में आम का बाग है। सोमवार की रात इस्लामनगर व चंदोई लकड़ी माफियाओं ने रात में पेड़ काटना शुरू किया वैसे ही इसकी सूचना किसी ने थाना इस्लामनगर पुलिस को दी जिस पर मौके पर पहुंची पुलिस ने लकड़ी भू माफियाओं को मौके से गिरफ्तार कर लिया भू माफिया जब तक पुलिस पहुंची तब तक एक आम का पेड़ ट्रैक्टर ट्राली से ले जाने में सफल रहे जबकि 3: आम के पेड़ माफिया जमीन पर गिरा चुके थे अन्य पेड़ों को लकड़ी भूमाफिया जड़ से चोटिल करने में सफल रहे इधर पेड़ काट रहे लकड़ी भू माफियाओं की स्थानीय पुलिस ने सूचना बिसौली वन विभाग के दरोगा शंकर लाल मौर्य को दी और भू माफियाओं को पुलिस ने उनके हवाले किया इधर वन विभाग दरोगा शंकरलाल मौर्य से बात करने पर उन्होंने बताया कि लकड़ी तस्कर बिना परमिट के लकड़ी काट रहे थे लकड़ी तस्करों के खिलाफ धारा 4 बटा 10 के विरुद्ध कार्रवाई कर उन पर ₹14500 का जुर्माना वसूला गया है। इधर थाना अध्यक्ष बच्चू सिंह से इस संबंध में बात की तो उन्होंने बताया की अगर लकड़ी गायब होती तो उनके विरुद्ध कार्रवाई मामला वन विभाग के सुपुर्द हो गया वन विभाग₹14500 की जुर्माना रसीद प्राप्त हो चुकी है। अब सवाल इस बात का उठता है की इस्लामनगर में लकड़ी भूमाफिया इतने सक्रिय क्यों हैं कि बिना परमिट आम के पेड़ काटना हिम्मत की बात है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: