महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने को दिया जा रहा है प्रशिक्षण


बदायूँ: 07 सितम्बर। ग्रामीण महिलाएं स्वावलंबन की राह चल सकें और ग्रामीणों को बैंकिंग सुविधाओं में सुगमता हो सके इसके लिए सरकार ने हर गांव में बिजनेस कॉरेस्पॉन्डेंट सखी कार्यक्रम शुरू किया है। कार्यक्रम के अनुसार प्रत्येक गांव में एक महिला को बीसी सखी के रूप में प्रशिक्षित किया जाएगा। जो ग्रामीणों की विभिन्न बैंकिंग योजनाओं में मदद करेगी।
पंजाब नेशनल बैंक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान द्वारा छह दिवसीय प्रशिक्षण दिया जा रहा है। मंगलवार को 38 महिला को बीसी सखी के रूप में प्रशिक्षित पूर्ण कराके आईआईबीएफ़ की परीक्षा करायी गई, जिसके बाद प्रमाण पत्र भी वितरित किए गए। आरसेटी निदेशक अनिल कुमार मेहा ने बताया कि महिलाओं को कंप्यूटर बैंकिंग से जुड़े अन्य सॉफ्टवेयर से भी परिचित कराया जा रहा है। इसके साथ ही फोन में एटीएम, फोन पर गूगल आदि चलाने को लेकर भी उन्हें प्रशिक्षित किया जा रहा है एवं पीएनबी सिविल लाईन के प्रबन्धक घनश्याम सिंह चौहान ने अवगत कराया कि बीसी सखी योजना से जुड़कर महिलाएं आत्मनिर्भर बन सकेंगी। इसके साथ ही ग्रामीणों को बैंकिंग सेवाओं में मदद मिलेगी। इस मौके पर आरसेटी स्टाफ भी उपस्थित रहा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: