सड़क सुरक्षा माह का शुभारंभ कर आयोजित हुई विविध प्रतियोगिताएं

बदायूँ:-गिन्दो देवी महिला महाविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना प्रथम इकाई के तत्वाधान में स्वयंसेविकाओं ने वरिष्ठ कार्यक्रम अधिकारी असि०प्रोफेसर सरला देवी चक्रवर्ती के निर्देशन एवं नेतृत्व में व प्राचार्या डॉ वंदना शर्मा के निर्देशन एवं संरक्षण में भारत की प्रथम महिला प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गाँधी की वर्षगाँठ पर ‘कौमी एकता सप्ताह एवं डॉ उमा सिंह गौर असिस्टेंट प्रोफेसर सरला चक्रवर्ती, डॉ इति अधिकारी के नेतृत्व में सड़क सुरक्षा माह का शुभारंभ किया गया। प्रथम दिवस राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप मे एकता की शपथ ग्रहण कर द्वितीय दिवस यातायात के नियमों का पालन करने की शपथ ग्रहण कर विविध कार्यक्रमों का आयोजन कर हर्षोल्लास के साथ मनाया।
इस अवसर पर विभिन्न प्रतियोगिताए कराई गई जिसमें राष्ट्रीय सेवा योजना स्यवंसेविकाओ ने बढ़ चढ़ कर प्रतिभाग किया।
प्राचार्या डा. वंदना शर्मा ने सभी को राष्ट्रीय एकता की शपथ दिलाते हुए सभी स्वयंसेविकाओं से इस सप्ताह को राष्ट्रीय एकता अखंडता को समर्पित होकर मनाए जाने तथा आपसी सौहार्द बनाएं रखने की अपील की। कार्यक्रम अधिकारी असि० प्रो० सरला देवी ने बताया कि कौमी एकता सप्ताह सहिष्णुता, सहअस्तित्व तथा भाईचारे के मूल्यों और परम्पराओं के प्रति संकल्प व्यक्त करने का अवसर है जिससे देश का धर्मनिरपेक्ष ताना बाना मजबूत हो। आगे बताया कि शासन के निर्देशानुसार सड़क सुरक्षा तथा यातायात नियमों के प्रति जनमानस में जागरूकता लाए जाने के उद्देश्य से नवंबर में सड़क सुरक्षा माह का आयोजन किया जा रहा है। इस अवसर पर विभिन्न प्रतियोगिताए, स्लोगन पोस्टर क्विज़, निबंध आदि का आयोजन किया गया । पोस्टर में प्रथम द्वितीय एवं तृतीय स्थान क्रमशः कु दीप्ती, नेहा और अर्चना ने प्राप्त किया। स्लोगन में कु सलोनी शंखधार, उजाला शंखधार एवं नीरज ने व क्विज़ प्रतियोगिता में कु पलक, पूनम, सौम्या ने प्राप्त किया। प्राचार्या डॉ वंदना शर्मा ने सभी का उत्साह वर्धन करते हुए बताया कि दो पहिया वाहन चलाते समय हमेशा हेलमेट पहने और चार पहिया वाहनों को चलाते समय सीट बेल्ट अवश्य लगाए स्वयं के साथ साथ दूसरों को भी जागरूक करें। इस अवसर पर कु० आकांक्षा, नीरज, संगीता, दीक्षा, साक्षी, इलमा, राजकुमारी, लवली शर्मा, नीरज, इल्मा नाज, पलक वर्मा,पूजा, ज्योती, राजकुमारी, पूनम आदि की सक्रिय सहभागिता रहीं। डॉ गार्गी बुलबुल, डॉ इति अधिकारी, डॉ मुक्ता सक्सेना,डॉ श्रद्धा, डॉ इन्दू शर्मा सहित समस्त स्टाफ उपस्थित रहा। अंत मे कार्यक्रम अधिकारी सरला ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए राष्ट्र गान के साथ कार्यक्रम के समापन की घोषणा की ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: