उत्तर प्रदेश गौरव सम्मान हेतु 10 दिसम्बर तक प्रस्तुत किये जा सकते हैं नामांकन


बदायूँ: 01 दिसम्बर। उत्तर प्रदेश के ऐसे ख्यातिलब्ध महानुभावों, जिन्होंने विभिन्न विधाओं एवं कार्य क्षेत्रों यथा-कला व संस्कृति, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी आदि में अपने व्यक्तिगत प्रयासों से उत्कृष्टता के आयाम स्थापित करते हुए राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर गौरव हासिल किया है, उन्हें वित्तीय वर्ष 2020-21 में उत्तर प्रदेश गौरव सम्मान से अलंकृत किया जायेगा। उ.प्र. गौरव सम्मान हेतु चयनित/पुरस्कृत कलाकार/महानुभावों को रू. 11.00 लाख (रू. ग्यारह लाख) नगद धनराशि अंगवस्त्र एवं ताम्रवस्त्र/मोमेन्टो भेंट स्वरूप प्रदान किया जायेगा।
यह जानकारी देते हुए जिलाधिकारी दीपा रंजन ने बताया कि शास्त्रीय संगीत/लोक संगीत (गायन, वादन, नृत्य)/ललित कलायेंध्नाट्य विधायें/फिल्म व मीडिया, समाजसेवा, समाज कल्याण, युवा कल्याण, महिला कल्याण एवं दिव्यांग कल्याण, कृषि, उद्यान, दुग्ध विकास, गोसेवा, पशुपालन, वन एवं वन्यजीव तथा पर्यावरण संरक्षण आदि, उद्यमिता, कौशल विकास, रोजगार सृजन, स्वावलंबन सहित अन्य क्षेत्रों (यथा शिक्षा, साहित्य, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, खेल इत्यादि के क्षेत्रों में विशिष्ट योगदान करने वाले महानुभाव) जिन्हें स्क्रीनिंग समिति सुपात्र समझे उन्हें ‘‘उत्तर प्रदेश गौरव सम्मान’’ प्रदान किया जायेगा।
उत्तर प्रदेश गौरव सम्मान हेतु उत्तर प्रदेश के ऐसे मूल निवासी जिन्होंने विभिन्न विधाओं/कार्य क्षेत्रों के ऐसे राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के ख्याति प्राप्त महानुभाव, जिन्होंने अपनी प्रतिभा, दीर्घ साधना के आधार पर श्रेष्ठ उपलब्धि प्राप्त की हो। जिन्होंने देश एवं विदेश में उत्तर प्रदेश का नाम रोशन किया हो। राज्य सरकार अथवा भारत सरकार से पूर्व में किसी अन्य राष्ट्रीय/राज्य पुरस्कार अथवा सम्मान प्राप्त महानुभाव को सामान्यतया इस पुरस्कार की पात्रता परिधि में नहीं रखा जायेगा।
उ.प्र. गौरव सम्मान के लिये संस्तुतकर्ता द्वारा नामांकित महानुभाव/कलाकार की विशिष्ट उपलब्धियों का सम्पूर्ण विवरण स्पष्ट रूप से अंकित करते हुए निदेशक, संस्कृति निदेशालय को प्रेषित किया जायेगा। निदेशक, संस्कृति निदेशालय द्वारा परीक्षणोपरान्त मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित स्कीनिंग कमेटी के समक्ष प्रस्ताव प्रेषित किया जायेगा। स्क्रीनिंग कमेटी की संस्तुतियों पर मुख्यमंत्री का अनुमोदन प्राप्त किया जायेगा। पुरस्कार हेतु इव्छुक महानुभाव 10 दिसम्बर 2021 तक अपने नामांकन निर्धारित प्रपत्र पर जिला सूचना कार्यालय बदायूँ में प्रेषित कर सकते हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: