उपजिलाधिकारी पारसनाथ मौर्य व पुलिस क्षेत्राधिकारी बलदेव सिंह ने चुनाव की कमान संभालने के साथ साथ लॉक डाउन का भी कराया पालन । - Latest News & Updates - Rohilkhand Prabhat News

उपजिलाधिकारी पारसनाथ मौर्य व पुलिस क्षेत्राधिकारी बलदेव सिंह ने चुनाव की कमान संभालने के साथ साथ लॉक डाउन का भी कराया पालन ।

Spread the love

दातागंज, बदायूँ । उत्तर प्रदेश के बदायूँ जिले के कस्वे दातागंज में लॉक डाउन का अच्छे से पालन रहा वही आप को बता दे कि मुख्यमंत्री योगी ने निर्देश दिया कि उत्तर् प्रदेश में अगर किसी को पहली बार बिना मास्क पहने पकड़ा जाए तो उस पर एक हजार रुपये जुर्माना लगाया जाए. अगर वह व्यक्ति दूसरी बार पकड़ा जाए तो दस गुना अधिक जुर्माना लगाया जाए ,जिसके चलते पूरे कस्वे दातागंज में आज पूरी तरह से लॉकडाउन रहा।उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने 15 मई तक हर रविवार को लॉकडाउन लगाने का एलान किया है और मास्क नहीं लगाने पर पहली बार में एक हजार रुपये का जुर्माना देना होगा. शनिवार रात 8 बजे से सोमवार सुबह सात बजे तक लगभग 35 घंटे तक संपूर्ण लॉकडाउन इस दौरान जरूरी सेवाओं रोक नहीं रहेगी. संक्रमण को रोकने के लिए प्रभावित इलाकों में इन 35 घंटे तक प्रदेश में प्रशासन सैनिटाइजेशन भी करवाएगी.जिसके चलते कस्वे में भी फायर ब्रिगेड की गाड़ी एवं ट्रैक्टर के साथ लगा सैनिटाइजर टैंक के द्वारा दातागंज नगर में व आस पास सैनिटाइजेशन भी किया गया। उपजिलाधिकारी पारस नाथ मौर्य का कहना था कि अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश कुमार अवस्थी जी द्वारा शनिवार को कोविड नियंत्रण के लिए कोरोना कर्फ्यू के संबंध में दिशा-निर्देश भी जारी किए है. जारी निर्देश के मुताबिक रविवार को ‘कंटीन्यूअस प्रोसेस इंडस्ट्रीज’ को चलाने सहित कोविड-19 प्रोटोकॉल का अनुपालन फार्मास्युटिकल्स, दवा, सेनिटाइजर बनाने वाले उद्योगों को चलाने की अनुमति दी गई है और इनके कर्मचारियों को इसी अनुसार आने-जाने की भी छूट मिली है। शनिवार व रविवार को कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन सुनिश्चित करते हुए सभी शादी समारोह में बंद स्थानों पर 50 लोगों और खुले स्थानों पर 200 लोगों को शामिल होने की अनुमति दी जाएगी. लेकिन सभी के लिए मास्क, सुरक्षित दूरी और सेनिटाइजर का उपयोग सहित प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य होगा.साथ ही परिवहन निगम की बसों को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ चलाने की अनुमति रहेगी. शासन ने तय किया है कि अंतिम संस्कार के लिए अधिकतम 20 व्यक्तियों को शामिल होने की अनुमति रहेगी. लॉकडाउन के दौरान आपातकालीन सेवाओं को छोड़कर सभी बाजार और दफ्तर बंद रहेंगे. इस दौरान चिकित्सा, स्वास्थ्य से जुड़ी आवश्यक सेवाएं और आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति यथावत जारी रहेगी।

रिपोर्ट- अभिषेक वर्मा


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *