वीरांगना आवन्तीवाई महिला पुलिस बटालियन प्रांगण का बटन दबाकर शिलान्यास


बदायूँ: 21 अगस्त। मिशन शक्ति कार्यक्रम के तृतीय चरण के शुभारंभ पर लखनऊ में भारत सरकार की वित्त एवं कारपोरेट कार्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्याथ के साथ जनपद बदायूँ में 19 हेक्टेयर भूमि पर 468 करोड़ रुपए की लागत से 1262 महिला पुलिस कर्मियों की भर्ती, पीएसी की सशक्त महिला बटालियन के लिए वीरांगना आवन्तीवाई महिला पुलिस बटालियन प्रांगण का बटन दबाकर शिलान्यास किया।
कार्यक्रम के दौरान सीएम ने कहा कि बदायूँ को धान, गेहूं एवं मैंथा मूल्य श्रंृखला हेतु महिला प्रोडूसर कम्पनी के गठन जिसमें 14275 महिलाएं लाभांवित होंगी, इसके लिए भारत सरकार ने 18 करोड़ रुपए का बजट स्वीकृत किया है। ज़री-ज़रदौजी हस्तशिल्प महिला कारीगरों के विकास के लिए हस्तशिल्प उत्पादन कंपनी का गठन किया गया है, जिसके लिए भारत सरकार ने 7 करोड़ रुपए का बजट स्वीकृत किया है। कलेक्ट्रेट स्थित अटल बिहारी वाजपेयी सभागार में कार्यक्रम का सजीव प्रसारण दिखाया गया। इसी क्रम में विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मालित भी किया गया।
नगर विकास राज्यमंत्री महेश चंद्र गुप्ता ने कहा कि हमारी सरकार बहू बेटियों के सम्मान के लिए कार्य कर रही है उनको आगे बढ़ाने के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाएं चला रही है, अब ससुराल में बेटी शौच के लिए खेत पर नहीं बल्कि स्वच्छ शौचालय में जाती है और शौचालय को इज्जत घर के नाम से जाना जाता है। जिस घर में मातृशक्ति की पूजा होती है मातृशक्ति का सम्मान होता है वह घर ही स्वर्ग के समान होता है।
डीएम ने कहा कि जब कोई महिला आगे बढ़ती है या उसे सम्मान देने का अफसर मिलता है तो वह मेरे लिए बहुत ही हर्ष का विषय होता है। मिशन शक्ति कार्यक्रम के आयोजन से महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करने के लिए सजग किया जा रहा है। आपको जो शक्ति मिली है उसको सिर्फ अपने तक ही सीमित ना रखें, अपने आसपास के लोगों को भी प्रेरित करें उन को जागरूक करें उनको आगे बढ़ने के लिए रास्ता दीजिए उनका सहारा बने। जब तक हम खुद सशक्त नहीं होंगे, खुद को कमजोर महसूस करेंगे तब तक कोई भी योजना महिलाओं को आगे नहीं बढ़ा सकती। इसलिए आप अपने घर और पड़ोस से शुरुआत करें यदि आपको लगे कि किसी महिला को आपकी जरूरत है तो उसकी सहायता अवश्य करें।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने कहा कि महिला शक्ति अंतर्गत महिला पुलिस को बहुत से दायित्व सौंपा गए हैं जिन्हें वह बखूबी निभा रही है। पुलिस विभाग में अब महिलाओं का योगदान बढ़ रहा है। पहले एक जमाना था कि जब महिलाएं पुलिस विभाग में आने के लिए इच्छुक नहीं होती थी अब देखा जा रहा है कि नई लड़कियां पुलिस विभाग में भर्ती हो रही है और इसकी आवश्यकता भी है।
नगर पालिका चेयरमैन दीपमाला गोयल ने कहा कि जहां नारी शक्ति की पूजा होती है वही देवताओं का वास होता है। महिला शक्ति के आगे सारी शक्तियां बेकार हैं। अपनी शक्ति को पहचानिए सरकार ने महिलाओं को आरक्षण दिया है हर क्षेत्र में महिलाओं का आरक्षण रहता है। इसका लाभ उठा कर आगे बढ़े एवं अपनी सहयोगी आने महिलाओं को भी आगे बढ़ाएं।
कार्यक्रम में मिशन शक्ति के अन्तर्गत स्वास्थ्य विभाग से 10 डाक्टर/नर्स, माध्यमिक शिक्षा व उच्च शिक्षा से 10 शिक्षिकाएं, पंचायती राज विभाग से 25 महिला प्रधान, महिला कल्याण बाल विकास विभाग से 10 आंगनवाड़ी, युवा कल्याण विभाग से 05 अध्यक्ष महिला मंगल दल, पुलिस विभाग से 01 उप निरीक्षक व 09 महिला आरक्षी, बेसिक शिक्षा से 05 शिक्षिकाएं व एन0आर0एल0एम0 से 11 समूह की महिलाओं को सम्मानित किया गया।  इस अवसर पर जिला प्रोबेशन अधिकारी संतोष कुमार, प्रीती कौशल संरक्षण अधिकारी सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: