नगर पंचायत में बदहाल पड़ा सामुदायिक शौचालय अधिकारी बेखबर

बदायू। प्रदेश सरकार स्वच्छ भारत मिशन के तहत लाखों रुपए बहा रही है लेकिन जिम्मेदार इसको पलीता लगाने में लगे हुए हैं ।ऐसा ही एक मामला नगर पंचायत गुलड़िया का वार्ड नंबर 7 का सामने आया है जहां नगर पंचायत गुलड़िया में लाखों रुपये से बने स्वच्छ भारत मिशन के तहत सौचालय बन्द पड़े हैं। जिनमें लगी सीट , पाइप, और टैंक की बुरी दशा है।वह एक प्रकार से टूटकर क्षतिग्रस्त हो चुके हैं और कुछ में ताले लटके हुए हैं । जबकि शौचालय पर एक सफाई कर्मचारी की नौकरी भी लगाई गई थी लेकिन उसने भी साफ सफाई की अपनी कोई जिम्मेदारी नहीं समझी और किसी भी अधिकारी ने इसकी तरफ आने की जहमत तक नहीं उठाई । शौचालय का निर्माण मानक के हिसाब से नहीं कराया गया है । नगरवासियों का कहना है कि जब कोई टीम आती है तभी ये साफ होते है। उससे पहले नहीं। सरकार शौचालय बनवाने में लाखों खर्च कर दिए लेकिन जिम्मेदारों ने घोटाला करके हजारों खपा लिए जहां बने शौचालय से निकलने वाले मल के लिए टैंक भी फट चुके हैं

इस संबंध नगर ईओ मोहम्मद रजा का कहना है कि मामला मेरे संज्ञान में नहीं है अगर शौचालय कही खराब पड़े हैं तो जल्द ठीक करवा दिए जाएंगे ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: