कांग्रेस दूसरों पर उंगली उठाने से पहले अपने गिरेबान में झांके : मायावती

बसपा सुप्रीमो मायावती ने कांग्रेस पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस दूसरों पर उंगली उठाने से पहले अपने गिरेबान में झांके। कांग्रेस की कथनी करनी में इतना फर्क है कि आज उसकी दुर्गति हो गई है। लखनऊ में मायावती ने बृहस्पतिवार को कहा कि बसपा पार्टी के समर्थ लोगों से सदस्यता के जरिए ही आर्थिक मदद लेती है। इससे कांग्रेस के पेट में दर्द हो रहा है जबकि सब जानते हैं कि कांग्रेस अपनी रैलियों तक में दिहाड़ी पर मजदूरों को ले जाती है। कांग्रेस का जनाधार इस कदर गिर चुका है कि उसे विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार तक नहीं मिलते और वह पैसे देकर प्रत्याशियों को खड़ा करती है। बसपा ऐसा नहीं करती बसपा खुद अपने चुनाव में पैसा लगाने वाले उम्मीदवारों को टिकट देती है।
उन्होंने कहा कि बसपा टिकट के बदले किसी से पैसे नहीं लेती है। यह अवश्य है कि सदस्यता के नाम पर कुछ लोगों से मजबूरी में एडवांस पैसे जमा कराने पड़ते हैं । जिससे दूसरे आर्थिक रूप से कमजोर प्रत्याशियों की मदद की जाती है । कार्यकर्ता चंदा कर भी आर्थिक रूप से कमजोर प्रत्याशियों की मदद करते हैं । कहा कि हमारी पार्टी धन्ना सेठों की पार्टी नहीं है गरीबों और मजदूरों की पार्टी है। कांग्रेस तथा कुछ अन्य लोग इसका गलत प्रचार करते हैं। जिसका कोई खास लाभ उन्हें होने मिलने वाला नहीं है।

मायावती ने कहा कि पहले उनके कार्यकर्ता उनका जन्मदिन जनकल्याणकारी दिवस के रूप में मनाते थे और उन्हें महंगे आभूषण और कपड़े लाख मना करने के बाद भी देते थे। इस पर उन्होंने इससे बिल्कुल मना कर दिया और कहा कि यदि वैसा चाहते ही हैं तो इसके बदले सदस्यता की किताब ले जाएं। अब हर बार उनका जन्मदिन इसी रूप में मनाया जाता है। कार्यकर्ता किताब ले जाते हैं और सदस्य बनाते हैं। इस तरह के आर्थिक सहयोग कि उनके यहां कोई मनाई नहीं है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: