पूर्व कैबिनेट मंत्री आरके चौधरी समेत दर्जन नेताओं ने थामा सपा का दामन ।

कई पूर्व पुलिस अधिकारी व पूर्व विधायक साइकिल पर सवार हुयें
लखनऊ ।

उत्तर प्रदेश 2022 विधानसभा चुनाव में अभी लगभग एक साल का समय है। मगर राजनैतिक गलियारों में उथल पुथल होना शुरू हो गई है। जिसका जीता जागता सबूत दिखाई दे रहा है। एक साल पहले ही समाजवादी पार्टी में नेताओं के शामिल होने का कारवां बढ़ता जा रहा है। शुक्रवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की उपस्थिति में बीएस फोर के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मंत्री आरके चौधरी सपा में शामिल हो गए। इस अवसर पर कई सेवानिवृत्त वरिष्ठ अधिकारी व पूर्व विधायक पार्टी में शामिल हो गए। इस मौके पर कांशीराम बहुजन दल का समाजवादी पार्टी में विलय हो गया।
शुक्रवार को पार्टी में शामिल होने वाले वरिष्ठ नेता व अधिकारी बीएस फोर के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरके चौधरी, पूर्व एडीजी गुरू बचन लाल जाटव, पूर्व डीआईजी हरीश कुमार, पूर्व विधायक काली चरन राजभर, जहूराबाद, पूर्व मंत्री विद्या चौधरी, आजमगढ़, कासगंज के चेयरमैन जाहिदा सुल्तान, पूर्व विधायक चौ.होशियार सिंह जाट, बुलंदशहर, पूर्व विधायक कृपा शंकर कटियार, भगवंतनगर, पूर्व विधायक हरचरन यादव, अमेठी, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष किरन वर्मा, बांदा
छेदी लाल शर्मा, द अखिल भारतीय विश्वकर्मा महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष, नगर पंचायत के अध्यक्ष मो.अशफाक, दीपचंद्र राम, अध्यक्ष कांशीराम बहुजन दल, इंद्रपाल सोनकर, राष्ट्रीय संयोजक मदर टेरेसा फाउंडेशन दलित आदिवासी कोआर्डिनेटर, अमरदीप मैसी, प्रांतीय अध्यक्ष सफाई कर्मचारी संघ अलीगढ़ पार्टी में शामिल होने वाले अन्य पदाधिकारी मो.सऊद, सीमा मिश्रा, दीपचंद्र राम, चौ.सुरेश कुमार निर्मल, भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष शिव प्रताप राजपूत, रोहित श्रीवास्तव, बसपा के पूर्व प्रत्याशी मेवालाल कन्नौजिया, राजेश कुमार मौर्य, पद्माकर मौर्य सिंटू, बुलंदशहर से एडवोकेट मदन पाल सिंह गौतम, वाराणसी से सीमा यादव, रामदुलार राम, कमलापति राजपूत वैद्य, अशोक सिंह, अब्दुल समद, मौलाना मोहम्मद अशरफ, आालोक चौहार, रिषि गोस्वामी, रवि गुप्ता, पंडित अमन कुमार द्विवेदी, बिजेंद्र कुमार सहित कई दर्जन लोगों ने पार्टी में शामिल हुए।

Leave a Reply

%d bloggers like this: