सानिया के बाद ग्रैंडस्लैम के मुख्य ड्रॉ में अंकिता रैना ने जगह बनाकर रचा इतिहास। - Latest News & Updates - Rohilkhand Prabhat News

सानिया के बाद ग्रैंडस्लैम के मुख्य ड्रॉ में अंकिता रैना ने जगह बनाकर रचा इतिहास।

Spread the love

अंकिता रैना ने रचा इतिहास, सानिया के बाद ग्रैंडस्लैम के मुख्य ड्रॉ में जगह बनाने वाली भारतीय महिला खिलाड़ी।

भारत की नई टेनिस सनसनी अंकिता रैना ने शुक्रवार (19 फरवरी) को इतिहास रच दिया। उन्होंने अपने करियर का पहला WTA खिताब जीत लिया। इस जीत के साथ ही उनका टॉप-100 महिला खिलाड़ियों में शामिल होना तय हो गया है। वह छह बार की ग्रैंडस्लैम चैंपियन सानिया मिर्जा के बाद शीर्ष 100 में जगह बनाने वाली दूसरी भारतीय महिला खिलाड़ी बनेंगी।
सानिया के बाद अंकिता दूसरी भारतीय हैं जो ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के महिला युगल में भाग लेंगी. निरुपमा ने सबसे पहले 1998 में ऑस्ट्रेलियाई ओपन में ही मुख्य ड्रॉ में जगह बनायी थी. अंकिता ने कहा, ‘‘यह ग्रैंडस्लैम का मेरा पहला मुख्य ड्रॉ है इसलिए यह एकल है या युगल मैं इससे खुश हूं. कई वर्षों की कड़ी मेहनत के बाद मैं यहां तक पहुंची हूं. केवल कड़ी मेहनत ही नहीं बल्कि लोगों के सहयोग और आशीर्वाद से भी मैं यहां पहुंच पायी हूं. मैं इसे नहीं भूल सकती.’’
अंकिता ने कहा कि पहले उन्होंने ड्रॉ में अपना नाम नहीं देखा तो उन्हें काफी निराशा हुई. उन्होंने कहा, ‘‘मुझे इस पर विश्वास नहीं हुआ. मुझे ड्रॉ में अपना नाम नहीं दिखा. अभ्यास के बाद मैंने ड्रॉ देखा और उत्सुकता में अपना नाम ढूंढा लेकिन मुझे अपना नाम नहीं दिखा. इसके बाद मेरे कोच ने मुझे बताया कि मुझे ड्रॉ में जगह मिली है.’’ अंकिता और बायें हाथ से खेलने वाली मिहेला पहले दौर में वाइल्ड कार्ड से प्रवेश पानी वाली ऑस्ट्रेलियाई जोड़ी ओलिविया गाडेस्की और बेलिंडा वूलकॉक से भिड़ेंगी. अंकिता ने कहा, ‘‘एक मित्र ने मुझसे कहा कि मिहेला जोड़ीदार ढूंढ रही है. मैंने उससे बात की और वह तैयार हो गयी. मैं इससे पहले उसके साथ नहीं खेली हूं लेकिन मैं बायें हाथ के खिलाड़ी के साथ खेली हूं. इससे यह अच्छा संयोजन बन गया है. मैं इसको लेकर उत्साहित हूं।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *