नारी सदा से रही हम सबका अभिमान।

बदायूँ भारतीय हिन्दी सेवी पंचायत के तत्वावधान में तहसील मुख्यालय सहसवान पर नारी शक्ति अभियान के तहत एक कार्यक्रम का आयोजन भारतीय कृषक पंचायत के संयोजक कैप्टन राम सिंह की अध्यक्षता में किया गया। मुख्य अतिथि के रूप व्यवस्था सुधार मिशन के जनक व भ्रष्टाचार मुक्ति अभियान के मुख्य प्रवर्तक हरि प्रताप सिंह राठोड़ उपस्थित रहे। सर्वप्रथम कार्यक्रम अध्यक्ष व मुख्य अतिथि द्वारा मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण किया गया।

कार्यक्रम संयोजक भ्रष्टाचार मुक्ति अभियान के तहसील समन्वयक आर्येन्दर पाल सिंह ने साहित्यकारों को शॉल उड़ाकर सम्मानित किया।

कार्यक्रम की शुरूआत हर्षवर्धन मिश्रा की सरस्वती वंदना से शुरू हुआ।

इसके बाद बिल्सी से पधारे विष्णु असावा जी ने पढ़ा :-

बेटियां तो बेटियां हैं देवियों से कम नहीं
घर में जब तक बेटियां हैं आंख होती नम नहीं

बदायूं से पहुंचे डाक्टर नासिर बदायूंनी ने पढा :-

दिल भी तुझपर फिदा है फिदा जानोतन
मेरे हिन्दोस्तां मेरे प्यारे वतन।

इस्लामनगर से पधारे शिवकुमार शर्मा ने पढ़ा :-

जब कभी भी ख्बाव देखूं आप ही आयें नजर
उम्र को मेरी आंखों का भला हो जायेगा ।

ओजस्वी कवि षटवदन शंखधार बदायूं ने पढ़ा :-

नारी सदा से रही हम सबका अभिमान
नारी देती ही रही हमें सदा पहचान

नाधा थानपुर से आये प्रमोद यदुवंशी ने पढ़ा :-

गुरबत में भी ग़ुरबत का किरदार निभाना पड़ता है,
खुदगर्ज़ फरेबी लोगो से भी हाथ मिलाना पड़ता है।

बदायूँ से आये हर्षवर्धन मिश्रा ने पढ़ा-

रखती है मां तो हर पल ही सबकी खबर
मां के रहते न आती है विपदा नज़र।

करता है उसकी पूजा जो विश्वास से
पार करती वो जीवन मे सबकी डगर …

कार्यक्रम का संचालन ओजस्वी कवि षटवदन शंखधार ने किया।

कार्यक्रम में प्रमुख रूप से आर्येन्दर पाल सिंह, शिशु पाल सिंह, सतेंद्र सिंह, भुवनेश कुमार, दुलार सिंह, रामगोपाल, एम एच कादरी, महेश चंद्र, अखिलेश सोलंकी, भानु प्रताप सिंह, डॉ राम रतन सिंह पटेल, मोहम्मद रिजवान, राजवीर, रजनेश, सत्यवीर सिंह, हरिओम, रणविजय, किशनवीर, श्रीराम, सतीश कुमार, मोरपाल, पुत्तूलाल, नितिन, यादराम, बाबूराम, मोनू सिंह, नरेश कुमार, शिवम, जय प्रकाश, मसर्रत अली, प्रमोद कुमार आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: